कोहनी की चोट से उबरे नीरज चोपड़ा ने ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई किया, 87.86 मीटर तक भाला फेंका

0
35


  • नीरज चोपड़ा ने यह उपलब्धि दक्षिण अफ्रीका में एथलेटिक्स सेंट्रल नॉर्थ ईस्ट मीटिंग में हासिल की
  • कॉमनवेल्थ और एशियाड के मेडल विजेता नीरज को सितंबर 2018 में कोहनी में चोट लगी थी

Dainik Bhaskar

Jan 29, 2020, 11:35 AM IST

खेल डेस्क. इंटरनेशनल जेवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई कर लिया है। उन्होंने दक्षिण अफ्रीका में एथलेटिक्स सेंट्रल नॉर्थ ईस्ट मीटिंग टूर्नामेंट में मंगलवार को 87.86 मीटर तक भाला फेंका। नीरज एक साल से कोहनी की चोट से जूझ रहे थे। टूर्नामेंट में दूसरे स्थान पर के ही रोहित यादव रहे। उन्होंने 77.61 मी तक भाला फेंका। इन दोनों के अलावा कोई भी एथलीट 70 मीटर की तक नहीं पहुंच सका। ओलिंपिक 24 जुलाई से 9 अगस्त के बीच होगा।

नीरज ने पिछला टूर्नामेंट अगस्त 2018 में जकार्ता एशियन गेम्स खेला था। तब उन्होंने 88.06 मीटर नेशनल रिकॉर्ड के साथ गोल्ड जीता था। नीरज ने टूर्नामेंट से पहले कहा था, ‘‘मैंने चोट के दौरान काफी कुछ सीखा, जो भविष्य में काम आएगा। सभी कमजोर बिंदुओं पर काम कर चुका हूं।’’

नीरज ने अप्रैल 2019 में सर्जरी कराई

नीरज ने 2018 में कॉमनवेल्थ और एशियाड में मेडल जीते थे। सितंबर में उसी हाथ की कोहनी में चोट लग गई, जिससे थ्रो करते हैं। अप्रैल 2019 में सर्जरी कराई। सितंबर में अभ्यास शुरू किया। नीरज ने प्रैक्टिस में लगातार 90 मीटर प्लस जेवलिन फेंका। सिर्फ जर्मनी के खिलाड़ी उनसे आगे हैं। ओलिंपिक रिकॉर्ड 90.57 मीटर है। एशियन गेम्स में नीरज ने 88.06 मीटर जेवलिन फेंका था। 





Source link

Leave a Reply