भारतीय पर्यटकों को लग्जरी टूर पैकेज से ज्यादा शॉपिंग करना पसंद, तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश सबसे पसंदीदा राज्य

0
28


  • सांख्यिकी मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय हॉलीडे से ज्यादा मेडिकल, एजुकेशन और बिजनेस टूर के लिए यात्रा करते हैं
  • बीते सालों के मुकाबले 2018 में 12% ज्यादा भारतीयों ने अपने देश में यात्राएं की, अंतरराष्ट्रीय टूरिस्ट भी 7 फीसदी बढ़े

Dainik Bhaskar

Jan 25, 2020, 11:01 AM IST

लाइफस्टाइल डेस्क. भारतीय पर्यटक लग्जरी हॉलीडे टूर बुक करने के मुकाबले वहां शॉपिंग करने में पैसे खर्च करना ज्यादा पसंद करते हैं। सांख्यिकी मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय हॉलीडे से ज्यादा मेडिकल, एजुकेशन और बिजनेस टूर के लिए यात्रा करते हैं। वर्ल्ड ट्रेवल एंड टूरिज्म काउंसिल की रिपोर्ट के मुताबिक, 30 राज्यों में से सबसे ज्यादा तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश की यात्रा करना पसंद है। दोनों ही राज्यों के पर्यटक स्थलों में विविधता और खूबसूरती इसकी खास वजह है। 

ऐरावतेश्वर मंदिर

तमिलनाडु : तीर्थस्थल और अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट ने बढ़ाए पर्यटक
सर्वे रिपोर्ट के मुताबिक, दूसरे राज्यों की तुलना में 2018 में देशभर के 21% पर्यटक तमिलनाडु घूमने आए। इसकी वजह तमिलनाडु में शोर मंदिर, ऐरावतेश्वर मंदिर, बृहदीश्वर मंदिर जैसे यूनेस्को की साइट भी पर्यटकों के आकर्षण की मुख्य वजहें हैं। राज्य में चार चेन्नै, मदुरै, तिरुचिरापल्ली और कोयंबटूर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट ने भी पर्यटकों की संख्या इजाफा करने का काम किया है।

फतेहपुर सीकरी

उत्तर प्रदेश : विरासत और आध्यात्म का संगम है खास
दूसरे नंबर पर रहे उत्तर प्रदेश में 2018 में पर्यटकों की संख्या करीब 15% तक रही। ताजमहल के अलावा पर्यटकों को आगरा फोर्ट और फतेहपुर सीकरी देखना पसंद है। देश की आध्यात्मिक राजधानी कहा जाने वाला वाराणसी भी लोगों की आस्था का केंद्र बना रहता है। वहीं, प्रदेश में पर्यटन को बढ़ाने के लिए राज्य सरकार ने 5 सालों में हर साल 5000 करोड़ रुपए निवेश कर इसे बेहतर बनाने का फैसला भी लिया है। इस क्षेत्र में 5 लाख रोजगार उपलब्ध कराने के साथ ही 2023 तक राज्य को पर्यटन में आगे लाने का लक्ष्य भी राज्य सरकार ने तय किया है।

बढ़ रहे भारतीय पर्यटक

वर्ल्ड ट्रेवल एंड टूरिज्म काउंसिल की रिपोर्ट के मुताबिक, बीते सालों की तुलना में 2018 में 12% ज्यादा घरेलू पर्यटक देशभर में घूमने गए। साथ ही अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों की संख्या में भी बढ़ोतरी दिखी। पर्यटकों की संख्या, राज्य के पर्यटन पर किया जा रहा खर्च, अच्छे होटल, रोड और रेलवे सुविधा, फ्लाइट्स की सुविधा, साक्षरता दर जैसे 12 पैमानों के आधार पर सर्वे किया गया। 



Source link

Leave a Reply