भारत में 5G हैंडसेट के साथ डेब्यू कर रही चीनी कंपनी iQOO, वीवो के लिए गेमिंग फोन बनाती है; 55 वॉट का चार्जर मिलेगा

0
24


  • भारत में रियलमी, श्याओमी, सैमसंग जैसी कई कंपनियां 5G फोन लॉन्च कर रही हैं
  • 5G सर्विस के मामले में हम अर्जेंटीना, पैराग्वे, दक्षिण कोरिया समेत कई देशों से पीछे

Dainik Bhaskar

Feb 24, 2020, 06:23 PM IST

गैजेट डेस्क. चीनी कंपनी iQOO भारतीय बाजार में 5G स्मार्टफोन के साथ उतर रही है। देश में 5G फोन के साथ कदम रखने वाली ये पहली कंपनी भी है। iQOO, वीवो की गेमिंग स्मार्टफोन तैयार करती है। दूसरी तरफ, रियलमी अपना पहला 5G फोन भारत में लॉन्च कर चुकी है। श्याओमी भी जल्द 5G कनेक्टिविटी वाला फोन लेकर आ रही है। कुल मिलाकर अब सभी कंपनियों का फोकस 5G हैंडसेट पर है। हालांकि, भारत में अब तक 5G सर्विस शुरू नहीं हुई है। ये भी साफ नहीं है कि ये सर्विस कब तक लॉन्च की जाएगी।

जब सर्विस नहीं तो 5G फोन क्यों?

इस बारे में टेक्नोलॉजिस्ट बालेन्दु शर्मा दाधीच ने बताया कि ज्यादातर कंपनियां ग्लोबल मार्केट के हिसाब से प्रोडक्ट तैयार करती हैं। भारत में भले ही 5G सर्विस शुरू नहीं हुई, लेकिन चीन या दूसरे देशों में 5G सर्विस शुरू हो चुकी है। फोन बनाने वाली कंपनी को सिर्फ प्रोडक्ट के हार्डवेयर में ही बदलाव करने होते हैं। भले ही भारत में आज 5G सर्विस नहीं है, लेकिन कुछ महीने बाद या अगले साल तक ये सर्विस शुरू होती है तब यूजर्स को हैंडसेट बदलने की जरूरत नहीं पड़ेगी। 2जी, 3जी और 4जी सर्विस के समय भी कंपनियों ने ऐसा ही किया था। फोन बनाने वाली कंपनियों में टेक्नोलॉजी और फीचर्स को लेकर कॉम्पटिशन बना हुआ है। ऐसे में उन्हें अपना प्रोडक्ट बेचने के नई टेक्नोलॉजी को दिखाना जरूरी हो जाता है।

iQOO 3 5G फोन के संभावित फीचर्स

डिस्प्ले 6.44-इंच सुपर एमोलेड, 1080×2400 पिक्सल
ओएस एंड्रॉयड 10.0; फनटच 10.0
प्रोसेसर क्वालकॉम SM8250 स्नैपड्रैगन 865 ऑक्टा-कोर
रैम 6GB, 8GB और 12GB
स्टोरेज 128GB और 256GB
रियर कैमरा 48+8+13+2 मेगापिक्सल
फ्रंट कैमरा 16 मेगापिक्सल
बैटरी 4400mAh, 55 वॉट चार्जर

5G सर्विस में हम कहां?

श्याओमी, रियलमी, iQOO, सैमसंग के साथ अन्य कंपनियां 5G हैंडसेट ला रही हैं, लेकिन इस सर्विस का फायदा फिलहाल नहीं लिया जा सकता है। इस बारे में रियालंस जियो ने बताया कि अभी देश में कई जगहों पर 4G नेटवर्क भी ठीक से काम नहीं करता। ऐसे में पहले उसे पूरी तरह ठीक करने का लक्ष्य है। हमारा 5G का इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार है। इसके लिए बैकएंड पर कुछ चेंजेस करने होंगे। अभी लोगों के पास 5G कनेक्टिविटी वाले स्मार्टफोन भी नहीं है।

किन देशों में शुरू हुई 5G सर्विस

बता दें कि चीन का वुझेन दुनिया का पहला ऐसा स्मार्ट टाउन है, जहां हर कोने तक 5G नेटवर्क की पहुंच हो गई है। यहां इंटरनेट 4G के मुकाबले 1000 गुना तेज चलता है। 27 वर्ग मील में फैले शहर के किसी भी कोने में बैठा व्यक्ति एक सेकंड में 1.7GB की फिल्म डाउनलोड कर सकता है।

5G सर्विस के फायदे

इस सर्विस का सबसे बड़ा फायदा है कि इंटरनेट की स्पीड 4G नेटवर्क की तुलना में 10 गुना तक बढ़ जाती है। 5G पर इंटरनेट की स्पीड 10,000 Mbps तक होती है। 5G सर्विस में सुपर फास्ट इंटनरेट के साथ वीडियो कॉलिंग, डाटा कॉलिंग जैसी सर्विसेज भी बेहतर हो जाएंगी। फ्यूचर में स्मार्ट सिटी, स्मार्ट होम, स्मार्ट सिक्योरिटी, स्मार्ट कार, स्मार्ट बाइक जैसी कई चीजें में 5G स्पीड का काम पड़ेगा।

1G से 5G नेटवर्क तक क्या-क्या बदला

1G : फोन कॉल्स
2G : फोन कॉल्स, टेक्स्ट
3G : फोन कॉल्स, टेक्स्ट, इंटरनेट
4G : फोन कॉल्स, टेक्स्ट, इंटरनेट, वीडियो कॉलिंग
5G : फोन कॉल्स, टेक्स्ट, इंटरनेट, अल्ट्रा एचडी, 3D वीडियो, स्मार्ट होम



Source link

Leave a Reply