लक्ष्मण ने कोहली की कप्तानी पर सवाल उठाए, कहा- दूसरी नई गेंद से उनकी रणनीति रक्षात्मक थी, यह टीम पर भारी पड़ सकती है

0
28


  • वीवीएस लक्ष्मण ने कहा- भारतीय कप्तान ने दूसरी नई गेंद का सही इस्तेमाल नहीं किया, उन्हें तेज गेंदबाजों से ज्यादा ओवर कराने थे
  • ‘नई गेंद से कोहली ने सही फील्डिंग नहीं लगाई, इसलिए 2 विकेट जल्दी गिरने के बाद भी न्यूजीलैंड ने 183 रन की बढ़त ली’

Dainik Bhaskar

Feb 23, 2020, 04:06 PM IST

खेल डेस्क. पूर्व भारतीय बल्लेबाज और कॉमेंटेटर वीवीएस लक्ष्मण ने वेलिंगटन टेस्ट में विराट कोहली की कप्तानी पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने टेस्ट के तीसरे दिन रविवार को टी ब्रेक में कहा- भारतीय कप्तान ने नई गेंद का सही इस्तेमाल न करके बड़ी गलती की। उन्हें तेज गेंदबाजों से लंबा स्पैल कराना था। लेकिन, वे 4 ओवर बाद ही आर.अश्विन को लेकर आ गए। मेरा मतलब है कि आपके पास तीन तेज गेंदबाज हैं, वह न्यूजीलैंड के निचले क्रम के बल्लेबाजों को गेंदबाजी कर सकते थे। आपने मौका गंवा दिया और यह टीम इंडिया पर भारी पड़ सकता है। 

लक्ष्मण इस बात से नाराज हैं कि तीसरे दिन के खेल में भारत ने दो विकेट जल्दी लेने के बाद मैच हाथ से फिसलने दिया। उन्होंने कहा- तीसरे दिन की शुरुआत में टिम साउदी और बीजे वाटलिंग का विकेट लेने के बाद भी भारत न्यूजीलैंड पर शिकंजा नहीं कस पाया। एक वक्त ऐसा लग रहा था कि कीवी टीम 100 रन से ज्यादा की बढ़त नहीं ले पाएगी। लेकिन जैमिसन और कॉलिन डी ग्रैंडहोम के बीच आठवें विकेट के लिए हुई 50 से ज्यादा रन की साझेदारी की बदौलत कीवी टीम ने 183 रन की बढ़त हासिल कर ली। ऐसा कप्तान कोहली के रक्षात्मक रवैये से हुआ। खासतौर पर दूसरी नई गेंद लेने के बाद।

कोहली 4 ओवर बाद ही स्पिनर ले आए, यह फैसला गलत : वीवीएस लक्ष्मण

उन्होंने कहा कि कोहली ने नई गेंद से सही फील्डिंग नहीं लगाई क्योंकि, जब आप विदेश में खेल रहे होते हैं तो नई गेंद का मैच पर बड़ा प्रभाव पड़ता है। लेकिन, वे 4 ओवर बाद ही स्पिनर को लेकर आ गए जो कि गलत फैसला था। 

चौथे दिन रहाणे की बल्लेबाजी अहम : स्कॉट स्टाइरिस

इस बीच, न्यूजीलैंड के पूर्व ऑलराउंडर स्कॉट स्टाइरिस ने कहा कि चौथे दिन अजिंक्य रहाणे भारत के लिए सबसे अहम खिलाड़ी होंगे। फिलहाल रहाणे 25 रन पर नाबाद हैं। स्टाइरिस ने रहाणे की तकनीक की तुलना कीवी कप्तान केन विलियम्सन से की। उन्होंने कहा कि चौथे दिन फोकस रहाणे पर होगा। क्योंकि, उनकी तकनीक और खेल के प्रति नजरिया कीवी कप्तान की तरह है। हालांकि, दूसरे छोर से उन्हें (रहाणे) को साथी बल्लेबाजों का साथ मिलना जरूरी है। अगर ऐसा नहीं हुआ तो वे अपने तरीके से नहीं खेल पाएंगे। ऐसे में अगर भारत को मैच में बने रहना है तो रहाणे का खेलना जरूरी है।

भारत ने तीसरे दिन 4 विकेट पर 144 रन बनाए

भारत ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने पर दूसरी पारी में 4 विकेट पर 144 रन बना लिए हैं। अजिंक्य रहाणे (25) और हनुमा विहारी (15) नाबाद हैं। वहीं, पृथ्वी शॉ (14), मयंक अग्रवाल (58), चेतेश्वर पुजारा (11), विराट कोहली (19) आउट हो चुके हैं।



Source link

Leave a Reply