IND vs NZ: कप्तान कोहली ने हार के बाद मानी गलतियां, बताई कहां हो गई चूक

0
37


नई दिल्ली: भारतीय टीम को न्यूजीलैंड के खिलाफ (India vs New Zealand) पहले टेस्ट मैच में करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा. मेजबान टीम ने भारत को 10 विकेट से हराया. यह सिर्फ तीसरा मौका है, जब भारत (Team India) को न्यूजीलैंड के खिलाफ इस अंतर से हार का सामना करना पड़ा है. न्यूजीलैंड (New Zealand) ने पांच दिनों का यह मैच चार दिन में ही जीत लिया. इस मैच के बाद कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने माना कि उनकी टीम से कुछ गलतियां हुईं, जो उस पर भारी पड़ गईं. उन्होंने साथ ही कहा कि वे अगले टेस्ट मैच में ये गलतियां दूर करने की कोशिश करेंगे. 

विराट कोहली ने हार की पहली वजह टॉस को बताया. उन्होंने कहा कि टॉस निर्णायक साबित हुआ. न्यूजीलैंड ने इस मैच में टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी थी और भारत को पहली पारी में महज 165 रन पर समेट दिया था. हालांकि, कोहली ने टॉस की बात पर ज्यादा जोर नहीं दिया. इसलिए यह कहा जा सकता है कि वे टॉस को बहाने के तौर पर पेश नहीं करना चाहते. 

यह भी पढ़ें: IND vs NZ: पहले टेस्ट में भारत की करारी शिकस्त, पढ़ें मैच की पूरी रिपोर्ट

भारतीय बैटिंग नाकामी रही
विराट कोहली ने हार की दूसरी वजह भारतीय बैटिंग की नाकामी को माना. उन्होंने कहा, ‘एक यूनिट के तौर पर हम हमेशा ही अच्छी बैटिंग करते रहे हैं. लेकिन इस बार ऐसा नहीं हो सका. अगर हम 220-230 रन बना पाते तो बात कुछ और होती. पहली पारी की नाकामी ने हमें बैकफुट पर धकेल दिया.’

गेंदबाजों ने भी निराश किया 
विराट कोहली ने कहा कि गेंदबाजी में भी भारतीय टीम अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकी. भारतीय कप्तान ने कहा, ‘हमने न्यूजीलैंड की पहली पारी में सात विकेट ठीक समय तक झटक लिए थे. उस वक्त हम यह उम्मीद कर रहे थे कि न्यूजीलैंड को 100 से ज्यादा रन की बढ़त नहीं लेने देंगे. लेकिन हम ऐसा नहीं कर सके. भारतीय गेंदबाजी और अनुशासित हो सकती थी. इसी कारण गेंदबाज भी अपने प्रदर्शन से खुश नहीं थे.’ 

200 रन भी नहीं बना सकी टीम इंडिया
मैच की बात करें तो न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी की. उसने भारत को पहली पारी में 165 और दूसरी पारी में 191 रन पर समेट दिया. न्यूजीलैंड ने पहली पारी में 348 रन बनाए थे. इस तरह उसे पहली पारी में 183 रन की बढ़त मिली थी. भारत को दूसरी पारी में सस्ते में समेटने के बाद न्यूजीलैंड को जीत के लिए 9 रन का लक्ष्य मिला, जो उसने बिना विकेट खोए हासिल कर लिया.



Source link

Leave a Reply